Skip to main content

अलीबाबा के जैक मा ला रहे हैं दुनिया का सबसे बड़ा आईपीओ, सऊदी अरामको से भी बड़ा, जानिए इसके बारे में सबकुछ

दुनिया का सबसे बड़ा आईपीओ आ रहा है। वह भी अमेरिका में नहीं बल्कि चीन में और कंपनी भी वहीं की है। जैक मा की कंपनी अलीबाबा का एफिलिएट है एंट ग्रुप और यही 35 अरब डॉलर यानी 2.56 लाख करोड़ रुपए का आईपीओ ला रहा है। यदि आपको लग रहा है कि इस तरह के आईपीओ तो आते रहते हैं तो जान लीजिए कि पिछले पांच साल में जितने आईपीओ भारत में आए हैं, उन सभी को मिला दें तो भी यह अकेला उन पर भारी पड़ने वाला है।

एंट ग्रुप का आईपीओ यानी इनिशियल पब्लिक ऑफर हॉन्गकॉन्ग और शंघाई स्टॉक एक्सचेंज में आ रहा है और इसे दुनिया का अब तक का सबसे बड़ा आईपीओ कहा जा रहा है। बार्कलेज, आईसीबीसी इंटरनेशनल और बैंक ऑफ चाइना इंटरनेशनल इसके बुक-रनर्स हैं। हॉन्गकॉन्ग में सीआईसीसी, सिटी ग्रुप, जेपी मॉर्गन और मॉर्गन स्टेनली इसे स्पॉन्सर कर रहे हैं। इसी तरह, शंघाई में सीआईसीसी और चाइना सिक्योरिटीज इसे स्पॉन्सर कर रहे हैं।

क्या है यह आईपीओ और इसमें क्या खास है?

  • सबसे पहले तो समझ लीजिए कि आईपीओ क्या होता है? जब कोई कंपनी अपने स्टॉक या शेयर्स को जनता के लिए जारी करती है तो उसे आईपीओ, इनीशियल पब्लिक ऑफरिंग (सार्वजनिक प्रस्ताव) कहते हैं। इसके बाद लिमिटेड कंपनियां शेयर बाजार में लिस्ट होती हैं।
  • चीनी अरबपति जैक मा की अलीबाबा की एफिलिएट एंट ग्रुप दुनिया की सबसे वैल्युएबल फिनटेक कंपनी है और यह अपनी वैल्युएशन 250 अरब डॉलर तक ले जाना चाहती है। यह बताना जरूरी है कि भारत की सबसे बड़ी कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज इसी साल जून में 150 अरब डॉलर के मार्केट कैपिटल तक पहुंची है और यह ऐसा करने वाली पहली और इकलौती भारतीय कंपनी है।
  • एंट ग्रुप को डुअल लिस्टिंग से 35 अरब डॉलर जुटाने की उम्मीद है। यह लिस्टिंग हॉन्गकॉन्ग और शंघाई में आधी-आधी होगी। सऊदी अरामको ने 2019 में 29.4 अरब डॉलर जुटाए थे और अब तक उसका आईपीओ ही दुनिया का सबसे बड़ा माना जाता है। चीन और अमेरिका में बढ़ते तनाव को देखते हुए एंट ग्रुप का आईपीओ न्यूयॉर्क में लिस्ट नहीं होगा। अमेरिका तो एंट ग्रुप को ट्रेड ब्लैकलिस्ट में डालने की तैयारी कर रहा है। यह बात अलग है कि 2014 में अलीबाबा ग्रुप ने न्यूयॉर्क स्टॉक एक्सचेंज में स्टॉक बेचकर 25 अरब डॉलर जुटाए थे और वह उस समय रिकॉर्ड-ब्रेकिंग आईपीओ था।

एंट ग्रुप क्या है और इसका जैक मा से क्या लेना-देना है?

  • दुनिया की सबसे बड़ी ई-कॉमर्स कंपनी अलीबाबा को इंग्लिश टीचर जैक मा ने 1999 में शुरू किया था। कई नाकामियों के बाद जैक मा ने जब अलीबाबा शुरू की तो खुद की ही नहीं बल्कि देश के लाखों लोगों की जिंदगी बदल दी। आज जैक मा दुनिया के सबसे रईस लोगों में शामिल हैं।
  • अलीबाबा का पेमेंट्स प्लेटफॉर्म ही था अलीपे, जो 2011 में शुरू हुआ। 2014 में एंट फाइनेंशियल बना। अलीबाबा की इसमें 50.5% हिस्सेदारी है और वह भी हैंगझाउ जुन्हान और हैंगझाउ जुनाओ के जरिए। अलीपे के 711 मिलियन यूजर मंथली एक्टिव हैं और 80 मिलियन बिजनेस हैं।
  • इसका मोबाइल वॉलेट अलीपे बहुत ही लोकप्रिय है और एक अरब से ज्यादा यूजर हैं और चीन के डिजिटल पेमेंट मार्केट में इसकी हिस्सेदारी 55% है। यह एक सुपर ऐप है। यूटिलिटी बिल के भुगतान से टैक्सी बुक करने तक, मूवी टिकट खरीदने से, कर्जा लेने, बीमा खरीदने, संपत्तियों की खरीद-फरोख्त, कॉफी का भुगतान, एक-दूसरे को पैसे भेजने तक हर काम में अलीपे इस्तेमाल होता है।
  • यह एक मल्टी-साइडेड मार्केट है। कंज्यूमर, बिजनेस और दो हजार पार्टनर फाइनेंशियल इंस्टिट्यूशंस प्लेटफॉर्म से जुड़े हैं और मिलकर पावरफुल नेटवर्क का इफेक्ट देते हैं। अलीपे के 90 प्रतिशत से ज्यादा यूजर ऐप का इस्तेमाल पेमेंट्स के अलावा अन्य एक्टिविटी के लिए भी करते हैं। हमारे पेटीएम जैसा ही तो है, जो पेमेंट्स के साथ-साथ कई सर्विसेस दे रहा है।

एंट ग्रुप के नंबर क्या कहते हैं?

  • कोरोना महामारी की वजह से पूरी दुनिया की अर्थव्यवस्था गड़बड़ा रही थी तब 2020 की पहली छमाही में इसने 10.5 अरब डॉलर का रेवेन्यू कमाया और 3.2 अरब डॉलर का मुनाफा भी। 2019 में अलीपे ने छोटे कारोबारियों और आम लोगों के अकाउंट्स में 290 अरब डॉलर क्रेडिट किए और कुल 16 लाख करोड़ डॉलर के लेन-देन किए। यह 2018 के मुकाबले 20 प्रतिशत ज्यादा है।
  • 2015 से कंपनी ने तीन इक्विटी फंडिंग राउंड्स में 20 अरब डॉलर जुटाए हैं। 2018 में 14 अरब डॉलर जुटाए, जब कंपनी का वैल्युएशन 150 अरब डॉलर किया गया था। इसके इन्वेस्टर्स में चाइना इन्वेस्टमेंट कॉर्प, टेमासेक होल्डिंग्स, सिल्वर लेक, ब्लैकरॉक, जनरल एटलांटिक और वारबर्ग पिनकस शामिल हैं।

इन्वेस्टर्स को आईपीओ में इंटरेस्ट क्यों है?

  • चीनी इन्वेस्टर आने वाले आईपीओ को टारगेट करने के लिए नए लॉन्च म्युचुअल फंड में इन्वेस्ट कर रहे हैं। पांच फंड्स बने हैं जो दो हफ्ते के सबस्क्रिप्शन पीरियड में 8.8 अरब डॉलर के फंड को टारगेट कर रहे हैं। हालांकि, ट्रम्प प्रशासन और चीन के बीच चल रहे तनाव को देखते हुए अमेरिकी इन्वेस्टर्स को इस आईपीओ में पार्टिसिपेट करने से रोका गया है।
  • चीन एक अहम फॉरेन पॉलिसी प्लेटफॉर्म है और डोनाल्ड ट्रम्प आने वाले यूएस इलेक्शन में अपने डेमोक्रेटिक प्रतिस्पर्धी जो बाइडेन से काफी पिछड़ रहे हैं। हालांकि, चीन के सिक्योरिटी रेगुलेटर भी स्टॉक लिस्टिंग में कॉन्फ्लिक्ट ऑफ इंटरेस्ट की जांच कर रहे हैं, जिस वजह से आईपीओ में देर हो रही है।


आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
Jack Ma Alibaba Ant Group IPO vs Saudi Aramco | Everything That You Need To Know About Alibaba Ant Group Initial Public Offering

Comments

Popular posts from this blog

विकास दुबे ने झाड़ियों की तरफ भागते हुए पुलिस पर फायरिंग की, एनकाउंटर स्पॉट के फोटोज देखिए

8 पुलिसकर्मियों की मौत का जिम्मेदार विकास दुबे 8 दिन बाद कानपुर में ढेर कर दिया गया। विकास को गुरुवार को उज्जैन के महाकाल मंदिर से गिरफ्तार किया गया था। इसके बाद यूपी एसटीएफ उसे कानपुर ला रही थी। कानपुर से 17 किलोमीटर पहले पुलिस की गाड़ी पलटी। विकास ने एक एसटीएफ जवान की पिस्टल छीनी और भागने की कोशिश की। उसकी फायरिंग में दो एसटीएफ जवान घायल भी हुए। जवाबी फायरिंग में यह गैंगस्टर मारा गया। यहां हम आपको एनकाउंटर स्पॉट की चुनिंदा फोटोज दिखा रहे हैं।कानपुर से महज 17 किलोमीटर पहले भौती जगह है। यह नौबस्ता और सचेंडी थाना क्षेत्र में आती है। फोटो ठीक उसी जगह का है, जहां एनकाउंटर हुआ।यह गन एसटीएफ के उन दो जवानों की हैं जो विकास से एनकाउंटर के दौरान घायल हुए। पुलिस इन्हें अपने कब्जे में ले चुकी है।एनकाउंटर के वक्त विकास वही कपड़े पहने था, जो उसने गुरुवार को उज्जैन के महाकाल मंदिर में गिरफ्तारी के वक्त पहने था।ये वही गाड़ी है जिसमें विकास दुबे को ले जाया जा रहा था। गाड़ी पूरी तरह नहीं पलटी, बल्कि एक तरफ का गेट दब गया था।एनकाउंटर वाली जगह पर मौजूद एसटीएफ के जवान और दूसरे लोग।घटनास्थल पर मौजूद एसटीए…

घर बैठे online पैसे कैसे कमाए – How to earn money online

घर बैठे ऑनलाइन पैसे कैसे कमाए

  घर बैठे ऑनलाइन पैसे कैसे कमाए
आज के समय में बेरोजगारी एक बड़ी समस्या बन गए है हमलोग पढ़े लिखे होकर भी काम की तलाश में घूमते रहते है जो सही भी है। बिना कमाए जीवन यापन कैसे होगा चलिए आज हम बात करते है कमाने के कुछ अलग तरीके के जो नौकरी से अलग हो आज की डिजिटल दुनिया में ऑनलाइन  कमाई का तरीका बहुत सक्सेसफुल है बस जरुरत है तो सही ढंग से काम को समझ कर करने की आप यकीं मानिये ऑनलाइन आप इतने पैसे कमा पाएंगे की आपको फिर कोई जॉब ढूंढ़ने की जरुरत नहीं पड़ेगी आज पूरी दुनिया डिजिटल हो चुकी है सारे लोग हर काम को ऑनलाइन करते है चाहे न्यूज़ पढ़ना हो या पेमेंट करना हो हर काम  इंटरनेट पर हो रहा है |तो चलिये बात करते है घर बैठे ऑनलाइन पैसे कैसे कमाए
# Blog बनायेंऔर online पैसेकमाए# Youtube परचैनलबनाकर online पैसे कमाए # ptc site से online पैसेकमाए# Freelancing से पैसा कमाए# Affiliate Marketing सेपैसेकमाएं# Facebook और Instagram से पैसे कमाएं# Share Market से पैसे कैसे कमाये

इंटरनेट से पैसे कमाने के तरीके 

1  Blog बनायें और पैसे कमाए आप ब्लॉग बना कर अच्छा खासा कमाई कर सकते है , प…

आमिर की अनाउंसमेंट बाद बाकी स्‍टार्स में भी रिलीज डेट बुक करने को लेकर मचेगी होड़, ईद, दीपावली, 15 अगस्‍त और 26 जनवरी पर होगा जोर

इस हफ्ते का आगाज आमिर खान की फिल्म 'लाल सिंह चड्ढा' की नई रिलीज डेट की घोषणा के साथ हुआ, जो कि अगले साल क्रिसमस पर आएगी। इसके साथ ही अब बाकी स्‍टार्स और प्रोड्यूसर्स के बीच अगले साल की अन्य अहम तारीखों को बुक करने की होड़ मचने जा रही है। ट्रेड विश्‍लेषकों और वितरक बिरादरी का कहना है कि अब सब जल्‍द से जल्‍द ईद, दीपावली, रिपब्लिक-डे और इंडिपेंडेंस-डे को बुक करना चाहेंगे।ट्रेड जानकारों का कहना है कि आमिर खान ने काफी सोच समझकर अगली क्रिसमस को बुक किया है। वे चाहते तो अगली ईद या दीपावली वगैरह पर आ सकते थे, लेकिन उन्‍होंने वैसा नहीं किया। ईद सलमान के लिए, तो दिवाली अक्षय कुमार या अजय देवगन आदि की फिल्‍मों के लिए छोड़ी है। बड़े प्रोड्यूसर ऐसा आपसी समझदारी के साथ करते हैं। ये बात ‘छिछोरे’ के वक्‍त दिए इंटरव्‍यू में फिल्ममेकर साजिद नाडियाडवाला ने कही थी।उन्‍होंने कहा था, 'हॉलीवुड में भी ऐसा ही होता है। बड़े स्‍टूडियो आपसी सहमति के साथ दो या तीन साल की एडवांस रिलीज डेट बुक करते हैं। वो इसलिए क्योंकि उन सबके करोड़ों रुपए दांव पर लगे होते हैं। बड़े बजट की फिल्‍मों को खास डेट चाहिए होत…

ऑस्ट्रेलिया के विक्टोरिया में 330 नए मामले सामने आए, फ्रांस में भी तेजी से बढ़ा संक्रमण; दुनिया में 2.13 करोड़ मरीज

दुनिया में कोरोनावायरस संक्रमण के अब तक 2 करोड़ 13 लाख 41 हजार 445 मामले सामने आ चुके हैं। इनमें 1 करोड़ 41 लाख 38 हजार 304 मरीज ठीक हो चुके हैं। 7 लाख 63 हजार 056 की मौत हो चुकी है। ये आंकड़े https://ift.tt/2VnYLis के मुताबिक हैं। यूरोपीय देशों में एक बार फिर संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं। फ्रांस में लगातार तीसरे दिन 2500 से ज्यादा केस सामने आए। ऑस्ट्रेलिया में संक्रमण की दूसरी लहर का देखी जा रही है। यहां एक दिन में 330 मामले सामने आए।फ्रांस : तेजी से बढ़े मामले
फ्रांस में कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। यहां लगातार तीसरे दिन शुक्रवार को 2500 से ज्यादा मामले सामने आए। इतनी तेजी से बढ़ते मामलों की वजह से फ्रांस सरकार भी अलर्ट पर आ गई है। शुक्रवार देर रात हेल्थ मिनिस्ट्री में इमरजेंसी मीटिंग हुई। सख्त उपाय अपनाने पर चर्चा हुई। माना जा रहा है कि आज सरकार की तरफ से ताजा हालात पर बयान जारी किया जाएगा। हेल्थ मिनिस्ट्री के सूत्रों ने कहा- लॉक डाउन खत्म होने के बाद संक्रमण की दूसरी लहर देखी जा रही है। हम कुछ क्षेत्रों में अब सख्त कदम उठाने के लिए मजबूर हो रहे हैं।शुक्रवार को लाउवेरे पिरामि…

देश की आजादी से लेकर राम मंदिर के श्री गणेश तक हर बड़ा काम अगस्त में ही हुआ, जानिए अगस्त की उन तारीखों को जो यादगार बन गईं

कुछ तारीखें, महीने इतिहास बन जाते हैं। यादगार हो जाते हैं। उनकी अहमियत और मायने आने वाले कल में भी कम नहीं होते हैं। उनमें से एक है अगस्त का महीना। अगस्त में ही अगस्त क्रांति हुई, और हमें आजादी भी मिली। इसी महीने में जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 भी हटा और 492 साल के लंबे संघर्ष के बाद राम मंदिर का श्रीगणेश भी अगस्त महीने में ही हुआ। आइए अगस्त की उन तारीखों को जानते हैं, जो इतिहास हैं, जो यादगार हैं, जो कल भी याद की जाएंगी...2000 से 2020: राम मंदिर का श्रीगणेश और आर्टिकल 370 का द इंड5 अगस्त 2019 को केंद्र सरकार ने आर्टिकल 370 हटाकर जम्मू कश्मीर से विशेष राज्य का दर्जा खत्म कर दिया। इसके साथ ही यह राज्य जम्मू कश्मीर एवं लद्दाख दो केंद्र शासित प्रदेश में बंट गया। यह उस साल की सबसे बड़ी घटना थी।इस साल अगस्त की सबसे बड़ी घटना 5 अगस्त 2020 को हुई, जब अयोध्या में राम मंदिर का शिलान्यास किया गया। यह एक ऐतिहासिक तारीख थी, जिसको लेकर 492 वर्षों तक संघर्ष चला। सड़क से लेकर सदन तक, जिला अदालत से लेकर सुप्रीम अदालत तक। उसके बाद पिछले साल नवंबर में सुप्रीम कोर्ट ने फैसला सुनाया और राम मंदिर निर्माण…

प्रधानमंत्री ने कहा- भारत में 3 कोरोना वैक्सीन की टेस्टिंग अलग-अलग चरणों में है, हर भारतीय तक कम समय में वैक्सीन पहुंचाने की तैयारी पूरी

74वां स्वतंत्रता दिवस कोरोना काल में आया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वायरस की रोकथाम को लेकर घोषणा की। उन्होंने कहा कि भारत में कोरोना वैक्सीन की टेस्टिंग अलग-अलग चरणों में है। हर भारतीय तक कम समय में वैक्सीन पहुंचाने की पूरी तैयारी है।माना जा रहा था कि स्वतंत्रता दिवस के मौके पर लाल किले की प्राचीर से मोदी वैक्सीन को लेकर बड़ा ऐलान कर सकते हैं। प्रधानमंत्री ने इसे लेकर स्थिति साफ कर दी।लाल किले पर क्या बोले मोदी?‘‘कोरोना की वैक्सीन कब तैयार होगी, यह बड़ा सवाल है। देश के हमारे वैज्ञानिक ऋषि-मुनियों की तरह जी-जान से जुटे हुए हैं। वे कड़ी मेहनत कर रहे हैं। भारत में एक-दो नहीं बल्कि तीन-तीन वैक्सीन टेस्टिंग के अलग-अलग चरण में हैं। जब वैज्ञानिकों से हरि झंडी मिलेगी तो बड़े पैमाने पर प्रोडक्शन होगा। इसकी तैयारियां पूरी हैं। हर भारतीय तक वैक्सीन कम से कम समय में कैसे पहुंचे, इसका खाका भी तैयार है।’’

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करेंModi's announcement- Complete preparation to deliver Corona vaccine to every Indian in a short time

श्री सूर्य देव आरती, surya dev ki aarti

श्री सूर्यदेव की आरती 
|| श्री सूर्यदेव की आरती || 

ॐजयसूर्यभगवान, जयहोदिनकरभगवान।
जगत्केनेत्रस्वरूपा, तुमहोत्रिगुणस्वरूपा।
धरतसबहीतवध्यान, ॐजयसूर्यभगवान।।